ब्रेकिंग
बिलासपुर: जिला पंचायत सभापति अंकित गौरहा को प्रदेश युवा संगठन चुनाव में मिली नई जिम्मेदारी बिलासपुर: मुख्यमंत्री जी! क्लेक्टर सौरभ कुमार को इस सड़क में हुआ भ्रष्टाचार नहीं आ रहा नजर. प्रियंका ... बिलासपुर: टिकरापारा मन्नू चौक निवासी रिशु घोरे को पुलिस ने चाकू के साथ किया गिरफ्तार बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स...

दोस्ती प्रसार-प्रचार वाहन को हरी झंडी दिखाकर हुई चाइल्ड लाइन दोस्ती सप्ताह का शुभारंभ

बिलासपुर। महिला एवं बाल विकास विभाग के रेलवे चाइल्डलाइन द्वारा 14 नवम्बर से 20 नवम्बर तक दोस्ती कार्यक्रम का आयोजन होगा। इस कार्यक्रम की शुरुआत मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय चाइल्डलाइन से दोस्ती प्रसार-प्रचार वाहन को हरी झंडी दिखाकर किया गया। इस दौरान विभिन्न प्रकार के जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि परिजनों से बिछडे, गुमशुदा, घर से भागे एवं घुमंतु बच्चों की सुरक्षा एवं देखभाल सुनिश्चित करना बडी चुनौती भरा कार्य है। ऐसे बच्चों से दोस्ती करने, इनका काउंसलिंग कर समाज की मुख्य धारा में जोडने, चाइल्डलाइन को सूचित करने के प्रति लोगों में जागरूकता लाने के उद्देश्य से इसका आयोजन किया जा रहा है।
इस मौके पर चाइल्डलाइन के सदस्यों एवं बच्चों द्वारा उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को फ्रेंडशीप रिबन बांधकर चाइल्डलाइन से दोस्ती करने की अपील की गई। साथ ही ऐसे बच्चों की मदद के लिए जारी नंबरों की जानकारी भी दी जा रही है। रेलवे प्रशासन द्वारा ऐसे बच्चों को घरेलु वातावरण देने के  प्रयास में बिलासपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नं-01 के पुराने आरपीएफ पोस्ट में सर्वसुविधा-युक्त बाल सहायता केन्द्र बनाया गया है। जहां प्रसाधन से लेकर सीसीटीवी, बेड, बिस्तर, कुलर, पंखे एवं कुर्सियों व यहां दीवारों पर बच्चों की पसंदीदा छोटा भीम, मोगली आदि जैसे पात्रों का पेंटिंग बनाकर इसे मनोरंजन-कक्ष के रूप में विकसित किया गया है। रेलवे प्रशासन ने आम जनता से आग्रह किया है, यदि आपके आसपास ऐसे बच्चे दिखे तो इसकी जानकारी 100 (पुलिस) 1098 (चाइल्डलाइन) तथा 182 (रेल सुरक्षा हेल्पलाइन) नंबरों में अवश्य दें। ताकि उनका काउंसलिंग कर समाज की मुख्य धारा से जोडने में इनकी मदद की जा सके।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772