ब्रेकिंग
बिलासपुर: पुलिस अधिकारियों के अपराधियों से हैं अच्छे संबंध, जानिए इस सवाल पर क्या बोले नए एसपी संतोष बिलासपुर: एकता और सदभावना का संदेश लेकर चल रही है हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा- लक्ष्मीनाथ साहू बिलासपुर में दो दिवसीय अखिल भारतीय नृत्य-संगीत समारोह विरासत 4 फरवरी से 30 जनवरी को दो मिनट के लिए ठहर जाएगा बिलासपुर, जानिए क्यों… बिलासपुर: इस प्रकरण ने SSP पारूल माथुर के सूचना तंत्र की खोली पोल तिफरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष लक्ष्मीनाथ साहू के नेतृत्व में निकली हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा बिलासपुर के नए एसपी होंगे संतोष कुमार सिंह बिलासपुर: आखिर क्यों चर्चा में है तखतपुर तहसीलदार शशांक शेखर शुक्ला? बिलासपुर: इस बार कोटा SDM हरिओम द्विवेदी सुर्खियों में आए पामगढ़: अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्यांगना वासंती वैष्णव एवँ सुनील वैष्णव के निर्देशन में 26 जनव...

अवैध शिक्षण संस्थानों पर हो कार्यवाही-जसबीर गुंबर ……

 

बिलासपुर। कांग्रेस कमेटी के जमीनी कार्यकर्ता जसबीर गुंबर ने न्यूज़ हब इनसाइट को एक साक्षात्कार में बताया कि जिला सहित पूरे प्रदेश में शिक्षा का स्तर गिरता जा रहा है. सरकार ने 2 हजार 9सौ स्कूलों को बंद कर रखा है.इससे जिले सहित पूरे प्रदेश में कोचिंग सेंटर वालों की बाढ़ आ गई है सरकार इनके लिए क्या ?मापदंड रखी है इस पर अपनी स्थिति संदेहास्पद बनाए हुए है. 

जसबीर गुंबर नें  कहा कि प्रदेश में चल रही अवैध शिक्षण संस्थानों  की जांच  और उन पर उचित कार्यवाही राज्य शासन द्वारा किया जाना चाहिए . उन्होनेेे राज्य शासन द्वारा अवैध शिक्षण संस्थानो को बढ़ावा दिये जानेेे की प्रवृत्ति की निंदा की है, साथ ही उन्होंने  प्रशासन की चुप्पी पर भी सवाल उठाये हैं . 

गुंबर ने बताया कि शिक्षण संस्थानों  द्वारा बगैर  मान्यता हासिल किये ही विभिन्न डिग्री कोर्स  में प्रवेश दिया जा रहा है,जिसकी मान्यता न होने के कारण जिले के छात्रों के सामनेे संकट की स्थिति उत्पन्न हो रही है. समय रहते प्रशासन को जिले मे संचालित ऐसे तमाम अवैध शिक्षण संस्थानों की जांच की जानी चाहिये,जिससे समय रहते छात्रों का भविष्य बचाया जा सके. उन्होंने  कोचिंग सेंटर के वालों  से संचालित डिग्री कोर्सो की मान्यता लिये जानें  की सलाह देते हुये ईमानदारीपूर्वक संस्था चलाने का आग्रह किया है.

गुंबर  ने कहा  कि शिक्षा का बाजारीकरण समाज के लिये अत्यंन्त घातक है और शिक्षण संस्थान खोलकर रातों रात करोड़पति बनने वालों  की लम्बी लाईन हो गयी है. भाजपा राज्य मेे शिक्षा का व्यवसाय इतना तेजी से फलफूल रहा है कि बेरोजगार युवा भी अब शिक्षण संस्थानों से   पैसा कमाने की फैक्ट्री के रूप मे खोलकर छात्रों  के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं .

जसबीर ने बताया कि कई मान्यता प्राप्त विद्यालयों द्वारा छात्रवृत्ति घोटाला कर करोड़ों रूपये का भ्रष्टाचार  किया गया है,जिसकी जांच प्रक्रिया अत्यन्त धीमी होने के कारण शिक्षा का व्यवसाय  करने  वाले लोगों  के हौसले बुलन्द है और लेन-देन तथा बन्दरबांट के चलते उनके व्यवसाय  मे कोई रोक नहीं  लग पा रही है.

गुंबर  ने कहा  कि राज्य शासन ऐसे अवैध शिक्षण संस्थानों और निजी कोचिंग चलाने  वालों के और तरीके  की भी जाँच करें तभी   इनके गोलमाल रवैये का पता लगाया जा सकता है।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772