ब्रेकिंग
बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्... बिलासपुर: गौरांग बोबड़े हत्याकांड के आरोपी रहे किशुंक अग्रवाल के पास से जब्त हुए 20 लाख बिलासपुर: बिल्हा क्षेत्र से गायब हुई नाबालिग लड़की तेलंगाना में मिली

अशोक अग्रवाल के आगे हाथ जोड़कर क्यों खड़े हैं शैलेश पांडे , पढ़िए खबर

बिलासपुर। बिलासपुर से शैलेष पांडे को टिकट मिलने के बाद अटल समर्थकों ने कांग्रेस भवन में विरोध प्रदर्शन किया। अपनी ही पार्टी के कार्यालय में तोड़फोड़ कर दिया। इसके बाद बड़े नेताओं की दखल के बाद नामांकन रैली में कांग्रेस नेताओं की एकजुटता देखते ही बन रही थी। शैलेश पांडे और प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव का “भरत मिलाप” भी चर्चा का विषय बन गया। लेकिन आज कांग्रेस भवन में कुछ ऐसा हुआ जिसने फिर से कांग्रेस नेताओं को विवादों के घेरे में ला खड़ा किया है। शहर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक अग्रवाल और बिलासपुर बिलासपुर विधानसभा प्रत्याशी शैलेश पांडे की तीख़ी बहस ने फिर चर्चा बढ़ा दी है।
हुआ यूं कि आज कांग्रेस भवन में चुनावी रणनीति तय करने के लिए सभी की मौजूदगी में बैठक रखा गया था। अशोक अग्रवाल ने शैलेश को यह चुनौती दे दी है, कि वे देख लेंगे की शैलेश बिलासपुर विस में कैसे जीतते हैं। अशोक ने कहा कि टिकट तो ले आए हो लेकिन तुम चुनाव कैसे जीतोगे। इतना कहकर कांग्रेस से अशोक अग्रवाल बाहर निकल गए, जबकि शैलेश हाथ जोड़े उनके समक्ष खड़े रहे। लेकिन हम अपने पाठकों को यह भी बता दें कि पार्टी कांग्रेस के कुछ ऐसे नेता हैं जो टिकट के लिए पांच वर्षों के 6 माह एक्टिव रहते हैं और जब पार्टी आलाकमान द्वारा किसी दूसरे नेता को टिकट दी जाती है तो विरोध में उतर जाते हैं।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772