ब्रेकिंग
बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्... बिलासपुर: गौरांग बोबड़े हत्याकांड के आरोपी रहे किशुंक अग्रवाल के पास से जब्त हुए 20 लाख

हत्यारे दोस्तों की टोली चढ़ी पुलिस के हत्थे, शराब पिलाकर ड्राइवर को पीट-पीटकर मौत के घाट उतारा था

बिलासपुर। शुक्रवार की देर रात हुई घटना के आरोपी पकड़े गए हैं। ट्रक ड्राइवर को शराब पीने के लिए मनाकर खेतों में जाकर शराब पीने के बाद नशे में ड्राइवर से पैसे लूटने के लिए उस पर बियर बोतल, लाठी से हमला कर उसे लहूलुहान कर उसकी जान लेने वाले, आरोपियों को पुलिस ने 24 घंटों के भीतर ही धर दबोचा है। आगे की कार्यवाही के लिए आरोपियों को न्यायालय में पेश किया गया। घटना थाना रतनपुर अंतर्गत खंडोबा बाईपास की है। 
शुक्रवार को ट्रक ड्राइवर आदित्य देवांगन पिता अंतूलाल देवांगन उम्र 24 साल निवासी दीपका जिला कोरबा, जो बिलासपुर के अजय जैन का ट्रक क्रमांक सीजी 15 एसी 5448 चलाता है, कोयला लेकर रतनपुर बाईपास आया था। रात 10 बजे करीब प्रकाश सोनवानी, आशीष, अजीत, बिज्जू सूर्या, विकेश उर्फ विक्की, अनूप राज और राजा सारथी द्वारा ऑटो में आकर प्रकाश सोनवानी द्वारा ड्राइवर को बातचीत कर शराब पीने के लिए राजी किए और खंडवा बाईपास के पास किनारे राहर बाड़ी में बैठकर शराब पिया। बाद में पैसे लूटने के लिए सभी मिलकर डंडा, बियर के बोतल से आदित्य देवांगन पर वार करने लगे। मारपीट, गंभीर रूप से चोट पहुंचाकर खून से लथपथ झाड़ियों के बीच छोड़कर भाग गए।
मौके पर रामचरण सूर्यवंशी एवं आसपास के दुकानदारों के चिल्लाने पर वे भाग गए, भागते समय राजा उर्फ अजीत को पकड़ लिया गया। और ड्राइवर को तत्काल अस्पताल रतनपुर भेजा गया। जहां उसकी इलाज के दौरान मृत्यु हो गई। मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक आरिफ, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अर्चना झा एवं अनुविभागीय अधिकारी कोटा अभिषेक सिंह द्वारा मौके पर थाना प्रभारी मान सिंह राठिया के साथ पहुंचकर विवेचना एवं आरोपियों की पतासाजी शुरू की। कुछ ही घंटों में प्रकाश, आशीष, अजीत उर्फ विक्की, अनूप राज, राजा कुमार को पकड़कर हिरासत में ले लिया गया। पूछताछ करने पर उन्होंने हत्या करना स्वीकार किया। मृतक को शराब पिलाकर मारपीट पैसा लूटने के उद्देश्य से यह सब किया गया।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772