ब्रेकिंग
बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स... बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्...

लुटेरी है भाजपा की सरकार : सुरजेवाला

बिलासपुर। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला आज बिलासपुर प्रवास पर पहुंचे, यहां एक निजी प्रतिष्ठान में प्रेसवार्ता में उन्होंने विपक्ष की भाजपा सरकार को लुटेरी सरकार कहकर संबोधित किया और कहा कि भाजपा सरकार किसान, मजदूर, खेत, खलिहान से मुक्त भारत बनाना चाहती है। जहां केवल पूंजीपतियों को प्रतिष्ठा मिले। सुरजेवाला ने पनामा पेपर लीक, व्यापम घोटाला, राफेल विमान डील जैसे मामलों को भाजपा का बड़ा भ्रष्टाचार करार देते हुए बताया कि किसानों को लूटने के लिए सरकारी नीतियां बनाने वाली पहली सरकार है। भाजपा ने धान समर्थन मूल्य भी नहीं दिया बस खरीदी और गिरता उत्पादन का उपहार किसानों को मिला है। 5 साल पहले भाजपा ने 2013 के घोषणापत्र में धान का न्यूनतम मूल्य 21 सौ प्रति क्विंटल करने का वायदा किया था, साथ ही 5 साल तक हर साल धान की फसल ₹300 प्रति क्विंटल बोनस का वादा किया था। लेकिन जीत के 5 साल बाद भी किसानों को केवल 1550 रुपए क्विंटल मिला। राजनीतिक लॉलीपॉप की तरह भाजपा की रमन सिंह ने ₹200 रुपए धान समर्थन मूल्य बढ़ाया और उसे भी उत्सव मनाने की घोषणा कर दी।
सुरजेवाला ने आगे बताया कि सूखा राहत जुमला बना फसल बीमा का लाभ किसानों से छीना और बीमा कंपनियों की जेब में भाजपा सरकार ने डाल दिया है। छत्तीसगढ़ में पिछले 1 साल में 21 जिले सूखे की चपेट में आ गए हैं। केंद्र में मोदी सरकार होने के बाद भी वादे के अनुसार रमन सिंह सरकार सूखा राहत पैकेज लाने में क्यों फेल साबित हुई। कांग्रेस की सरकार थी तब प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को इसके लिए कोसते थे। भाजपा ने ही स्वीकारा है कि हर 8 घंटे में एक किसान, मजदूर आत्महत्या को मजबूर हैं। कांग्रेस के कार्यकाल में राज्य नहरों का जाल बिछाया गया। किंतु भाजपा शासित 15 साल में रमन सिंह सरकार ने महानदी का पानी अपने सूट-बूट वाले मित्रों को दे दिया। इतिहास में पहली बार रमन सरकार ने जनता को बरगला कर रुंगदा बांध भी पूंजीपतियों को बेच डाली। इंद्रावती, शिवनाथ, खारुन जैसी नदी भी यही हालात झेल रही है। जो अपने आप में भाजपा की नाकामी की कहानी कहती है।
आगे उन्होंने बताया कि 71 साल में पहली बार भाजपा की केंद्र सरकार ने ही खेती पर टैक्स लगाया। खाद पर 5% जीएसटी, कीटनाशक दवाइयों पर 18% जीएसटी, ट्रैक्टर खेती के उपकरण पर 18% की जीएसटी ट्रैक्टर पावर, ट्रांसमिशन पर 18% की जीएसटी लगाकर किसानों को बेबस बनाने का काम भाजपा की सरकार ने किया है। खाद की कीमत आसमान छू रही है। डीएपी खाद की कीमत 2014 में ₹1075 प्रति क्विंटल थी पर आज बढ़कर ₹1450 प्रति क्विंटल पहुंच गई है। हर साल किसान 89.80 डीएपी खरीदता है। डीएपी खाद पर भाजपा किसानों की जेब से 3400 करोड़ रुपए की चपत लगा रही है। डीजल की बढ़ती कीमतों ने भी किसानों की रीढ़ की हड्डी तोड़ रखी है। 2014 में कच्चे तेल की कीमत 108 प्रति बैरल थी। और आज उस समय डीजल का भाव 55.54 रुपए प्रति लीटर था। पर आज कच्चे तेल का भाव ₹78 डॉलर प्रति बैरल है लेकिन डीजल की कीमत 77.24 रूपए। पिछले 4 सालों में अकेले डीजल पर 474% केंद्रीय एक्सरसाइज शुल्क बढ़ा दिया गया पेट्रोल पर 211%। इस दौरान उन्होंने पत्रकारों द्वारा पूछे गए सभी सवालों के जवाब भी दिए। प्रेसवार्ता के क्रम में सबसे प्रथम उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के बलिदान दिवस पर उन्हें नमन किया। एवं सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर उन्हें याद किया।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772