ब्रेकिंग
बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स... बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद

कांग्रेस सबसे शर्मनाक अंतर्कलह से जूझ रही – भाजपा

बिलासपुर। भारतीय जनता पार्टी ने टिकट वितरण से पहले मचे कांग्रेसी दंगल पर एक बार फिर चुटकी ली है। पार्टी ने कहा कि कई बार स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक के बावजूद कांग्रेस अपने प्रत्याशियों की घोषणा तक नहीं कर पा रही है।
भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता भूपेन्द्र सवन्नी ने कहा कि दूसरे दलों की वैचारिक असहमति को भी अंतर्कलह के रूप में प्रचारित करने वाली कांग्रेस आज छत्तीसगढ़ में अपने राजनीतिक जीवन के सबसे शर्मनाक अंतर्कलह से जूझ रही है। कांग्रेस में टिकटों की खरीदी-बिक्री की चर्चा के चलते प्रदेश में अपनी राजनीतिक साख खो चुकी कांग्रेस के केन्द्रीय नेताओं ने प्रदेश नेतृत्व को आड़े हाथों लेना शुरू किया है। सेक्स सीडी और स्टिंग ऑपरेशन जैसी आपराधिक दर्जे की साजिशों के आरोपों से जूझ रहे कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष की विश्वसनीयता भी दांव पर है। इसका नजारा तब पेश हुआ जब केन्द्रीय चुनाव समिति की बैठक से बघेल नाराजगी के साथ उठकर चले गये। उन्हें मनाने का नाटक चला तब जाकर वे बैठक में वापस लौटे।
श्री सवन्नी ने कहा कि कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष जब अपनी राय से केन्द्रीय नेतृत्व का भरोसा जीतने में नाकाम नजर आ रहे हैं तो जनता का भरोसा वे कैसे जीत पाएंगे? श्री सवन्नी ने कहा कि ऐसा प्रतीत हो रहा है कि सेक्स सीडी और स्टिंग ऑपरेशन के बाद अब टिकटों की खरीदी-बिक्री की चर्चा के चलते प्रदेश नेतृत्व अपने बेनकाब हो जाने के अंदेशे से भयभीत और विचलित है। इसीलिए अपनी सौदेबाजी को अंजाम तक पहुंचाने के लिए कांग्रेस नेता तमाम दांव-पेंच आजमा रहे हैं। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि केन्द्रीय नेतृत्व ने मंगलवार को सीईसी बैठक में जिस तरह के तेवर दिखाए, उससे भी कांग्रेस में चल रहा सत्ता-संघर्ष उभरकर सतह पर आ गया है। इसके चलते कांग्रेस की गुटबाजी और अंतर्कलह अब विस्फोटक मुकाम पर पहुंच गई है। सुनने में तो यह भी आ रहा है पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी को चुनाव लडऩे की सलाह भी कांग्रेस के केन्द्रीय नेताओं ने दी है। 
श्री सवन्नी ने कटाक्ष किया कि येन-केन प्रकारेण सत्ता हासिल करने की बदहवासी में कांग्रेस अपने दलीय लोकतंत्र का तो भद्दा मजाक बना ही रही है, प्रदेश की जनता के बीच अपनी साख भी खोती जा रही है। ऐसी स्थिति में भाजपा एक लोकतंत्र-निष्ठ भरोसेमंद राजनीतिक विकल्प के तौर पर पूरी प्रामाणिकता के साथ मिशन 65 प्लस का अपना लक्ष्य यकीनन हासिल करेगी।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772