ब्रेकिंग
बिलासपुर: पावर लिफ्टर निसार अहमद एवं अख्तर खान रविंद्र सिंह के हाथों हुए सम्मानित बिलासपुर: भाजपा पार्षद दल ने पुलिस ग्राउण्ड में जिला प्रशासन से रावण दहन की मांगी अनुमति बिलासपुर तहसीलदार अतुल वैष्णव का सक्ति और ऋचा सिंह का रायगढ़ हुआ ट्रांसफर बिलासपुर: आरोपी अमित भारते, जितेंद्र मिश्रा और संदीप मिश्रा को नहीं पकड़ पा रही है SSP पारूल माथुर की... बिलासपुर: कलेक्टर सौरभ कुमार ने सरकार हित में सरकारी जमीन बचाने वाले अधिवक्ता प्रकाश सिंह के साथ किय... बिलासपुर: उस्लापुर के रॉयल पार्क में नजर आएगी गरबा की धूम, थिरकने के लिए तैयार हैं शहरवासी बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स... बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद

शैलेश का तीखा कटाक्ष, कहा- मंत्री जी मनोरोगी हो गए हैं, इलाज की जरूरत है

बिलासपुर। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता शैलेश पांडे फिर एक बार स्थानीय विधायक प्रदेश के नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल को आड़े हाथ लेते दिखाई दे रहे हैं। उन्होंने अपने बयान में कहा है कि जब तक पेड़ों की बलि ना दी जाए तब तक बिलासपुर के मंत्री के कथित विकास का होना असंभव सा दिखाई देता है। शहर में बेवजह विकास के नाम पर पेड़ों को काटे जा रहे हैं। बिलासपुर में बनने वाले तारामंडल को लेकर उन्होंने तंज कसते हुए कहा है कि तारामंडल कहीं भी बनाया जा सकता है। उल्लेखनीय है कि आज तारामंडल का भूमिपूजन किया गया इस दौरान यहां विरोध करने आये कांग्रेसियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर तारबाहर थानें भेज दिया।
शैलेश ने कहा कि मंत्री पहले लिंकरोड फिर व्यापार विहार, दयालबंद, मुंगेली नाका, कोनी मार्ग, रायपुर रोड, कोटा रोड के हजारों पेड़ों की कटाई कराकर शहर का टेम्प्रेचर 50 डिग्री पहुंच गया। मंत्री का विकास शहरवालों को दिखाई नहीं दिया। ना तो आज तक इन पेड़ों की बलि के बाद पेड़ लगाए गए, ना ही शहर का टेम्प्रेचर काम हुआ। जब अप्रैल-मई में शहर में बेतहाशा गर्मीं पड़ने लगा और लोगों ने पेड़ों को कटाई को वजह बताया, तो मंत्री जी ने आक्सीजोन की फुलझड़ी छोड़ दी, अब जब चुनाव आया तो हमेशा की तरह एकबार फिर अधूरे कार्यों को दरकिनार कर फिर से कथित विकास कार्य का तमगा गाड़ने में लग गए हैं | पिछले 20 वर्षों से बिलासपुर जिस तेज़ी से विकास में पिछड़ता जा रहा है। अब छत्तीसगढ़ का दूसरे सबसे बड़े शहर का नाम पांचवे छठवे में आने लगा है।
शैलेश ने आगे कहा कि पिछले 13 वर्षों में जनता को दुख तकलीफ और मौत देते हुए अपने अंजाम तक पहुंच गया है और यह योजना कभी भी चालू नहीं हो सकेगी। अरपा परियोजना सिर्फ कागजों में सिमट चुकी है। ट्रांसपोर्ट नगर अब तक बसा नहीं, गोकुल धाम की डेयरियां तो शहर में संचालित हो रही है। लागत से तीन गुना ज्यादा पैसे में एक आडोटोरियम बना वो भी किसी काम का नहीं। एक ही जगह के सौंदर्यीकरण को बार-बार उजड़ा जा रहा है, जनता के करोड़ों रुपये को बर्बाद किया जा रहा है। कांग्रेस के तीन साल के शासनकाल के बाद ना तो एक भी सड़क का चौड़ीकरण हो सका, ना ही शहर का दायरा बढ़ सका। मंत्री जी पेड़ों की बलि चढ़ाकर लोगों को दिन में तारा दिखाना चाह रहे हैं। करोड़ों रुपये डकारने के बाद भी शहर की सफाई व्यवस्था चौपट हो गई है। माह भर से नालियों की सफाई हो नहीं रही है। शैलेश ने कहा है कि जनता सब कुछ समझ चुकी है इस बार के चुनाव में मंत्री जी को भ्रष्टाचार करने का फिर से मौका नहीं दिया जाएगा।
इस दौरान विरोध प्रदर्शन में जिलाध्यक्ष विजय केशरवानी, शहर अध्यक्ष नरेंद्र बॉलर, प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव, प्रदेश प्रवक्ता शैलेश पाण्डेय, नेता प्रतिपक्ष शेख नज़रुद्दीन, महेश दुबे, शिवा मिश्रा, विजय पाण्डेय, राजेश पाण्डेय, शैलेन्द्र जायसवाल, पंच राम सूर्यवंशी, अखबार अली, जावेद मेनन, तैयब खान, निर्मल मानिकपुरी, रामा बघेल, कराम गोरख, अभय नारायण आदि मौजूद रहे।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772