ब्रेकिंग
बिलासपुर: कार्य की धीमी गति पर कंपनी के साथ जिम्मेदार अधिकारियों पर भी की जानी चाहिए थी कार्यवाही, स... बिलासपुर: महादेव और रेड्डी अन्ना बुक के सटोरियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही बिलासपुर: जूनी लाइन स्थित सुरुचि रेस्टोरेंट के पास रहने वाले कृष्ण कुमार वर्मा के बड़े बेटे श्रीकांत ... बिलासपुर में UP65/ EC- 4488 नँबर की कार से जब्त हुए 5 लाख नकद बिलासपुर: सदभाव पत्रकार संघ छत्तीसगढ़ की बैठक में संगठन की मजबूती पर चर्चा बिलासपुर: शैलेश, अर्जुन, रामशरण और विजय ने कहा- पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के कार्यकाल में भाजपा के पू... बिलासपुर: मुफ्त वैक्सीन के लिए अब केवल 7 दिन शेष, कलेक्टर ने की अपील, सभी लगवा लें टीका बिलासपुर: मोपका और चिल्हाटी के 845/1/न, 845/1/झ, 1859/1, 224/380, 1053/1 खसरा नँबरों की शासकीय भूमि ... बिलासपुर: क्या अमर अग्रवाल की बातों को गंभीरता से लेंगे कलेक्टर सौरभ कुमार? नेहरू चौक में लगी थी राज... बिलासपुर: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा नर्सिंग और गैर नर्सिंग स्टाफ़ के व्यक्तित्व विकास एवं कम्...

जिला अस्पताल में बीमार जुड़वा बच्चों को कलेजे से लगाकर रोती रही माँ, युकां के विरोध के बाद डॉक्टरों ने किया इलाज

बिलासपुर। जिला अस्पताल में एक मां अपने मासूम जुड़वा बीमार बच्चों को लेकर जिला अस्पताल पहुंची, तो यहां के डॉक्टरों ने इलाज से इनकार कर दिया। माँ 70 किलोमीटर दुर स्थित गांव कुम्हारी से अकेले तड़पते मासूम जुडवा बच्चों को कलेजे से लगाकर गिड़गिड़ाती रही लेकिन डॉक्टरों को रहम नहीं आया। जब इसकी जानकारी युवा कांग्रेस को मिली तो उन्होंने इलाज दौरान करने की मांग की और नारेबाजी के बाद किसी तरह मासूम जुड़वा बच्चों का जिला अस्पताल ने भर्ती किया गया। भाटापारा बलौदाबाजार के पास स्थित कुम्हारी गांव की रहनेवाली राजकुमारी राजपूत मंगलवार की सुबह ट्रेन से अपने बच्चों को लेकर जिला अस्पताल पहुंची। दोनों बच्चो की तबियत गंभीर थी।
युकां पदाधिकारियों ने बताया कि एक माह पहले ही मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने जिला अस्पताल में महिलाओं व बच्चों के बेहतर इलाज के लिए 100 बिस्तरों का भवन लोकार्पण किया। आज चिकित्सा विभाग की लापरवाही से एक मां बच्चों के इलाज के लिए भटकती रही। इसी बीच युकां के जावेद मेमन, शिवा नायडू, विनय वैधे वकार खान, ऋषि कश्यप, अयाज खान पहुंचे और इलाज की मांग की। सीएमओ को इसकी जानकारी मिली, तब डॉ. एसएस भाटिया ने मौके पर पहुंचकर बच्चों को भर्ती कराया। जावेद मेमन, शिवा नायडू ने कहा कि अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही से यहां जान जा सकती है। आयुष्मान योजना का ढिंढोरा पीटने वाली भाजपा सरकार के नुमाइंदे बच्चों के इलाज मे लापरवाही बरत रहे हैं। युकां ने चेतावनी दी है कि जिला अस्पताल में गरीब परिवार को तत्काल चिकित्सा उपलब्ध होना चाहिए वर्ना उग्र आंदोलन किया जाएगा।
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9977679772